[Complaint] उत्तर प्रदेश जनसुनवाई | UP Jansunwai Portal/App | Complaint Status

यूपी जन सुनवाई पोर्टल | Jansunwai Portal Online | Jansunwai Portal/APP, Complaint Status | jansunwai.up.nic.in Portal ऑनलाइन शिकायत | jansunwai | jansunwai up | jansunwai portal | up jansunwai | jansunwai up nic in | jansunwai status | jansunwai login | jansunwai app | उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल | jansunwai.up.nic.in

jansunwai.up.nic.in :- नमस्कार दोस्तों| आज हम आपको उत्तर प्रदेश सरकार की एक बहुत ही महत्वपूर्ण पहल के बारे में बताएंगे |उत्तर प्रदेश राज्य के नागरिकों को सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए उत्तर प्रदेश की सरकार ने Jansunwai Portal को शुरू किया है| इस पोर्टल के द्वारा राज्य का कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत को घर बैठे ऑनलाइन सरकारी विभागों में दर्ज करवा सकते हैं इसके साथ ही नागरिक अपने द्वारा दर्ज की गई शिकायत की स्थिति को भी चेक कर सकते हैं यदि आप उत्तर प्रदेश राज्य से हैं तो आज आपके लिए हमारा यह आर्टिकल बहुत लाभदायक होने वाला है| इसलिए आपसे निवेदन है कि आप हमारे आर्टिकल को अंत तक पढ़े|

Jansunwai

Uttar Pradesh Jansunwai | jansunwai.up.nic.in | ऑनलाइन शिकायत करें

उत्तर प्रदेश की सरकार ने अभी कुछ दिनों पहले ही उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल का शुभारंभ किया था और Jansunwai Portal का लाभ सभी नागरिकों तक पहुंचे |इसलिए जनसुनवाई मोबाइल एप्लीकेशन को भी लॉन्च किया गया है| इस एप्लीकेशन के माध्यम से नागरिक घर बैठे Jansunwai UP की सुविधाओं से लाभान्वित हो सकते हैं| दोस्तों इन सुविधाओं  की सूची इस प्रकार है  |

  • जनसुनवाई लॉगइन 
  • ऑनलाइन शिकायत दर्ज करवाना
  • शिकायत की स्थिति को चेक करना  आदि |

आज हम अपनी आर्टिकल के द्वारा आपको Jansunwai UP और Jansunwai Portal App से संबंधित जानकारी प्रदान करेंगे इसलिए आप हमारे आर्टिकल पर अंत तक बने रहिए|

Jansunwai

Objective of UP Jansunwai 2021

दोस्तों जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि राज्य में बढ़ते अपराधों को रोकने के लिए और राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए  Jansunwai Portal को लॉन्च किया गया है| जिससे राज्य के सभी नागरिकों को सरकारी कार्यालय  में काम करवाने  मैं कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ेगा | अब  राज्य का प्रत्येक नागरिक अपनी शिकायत को Jansunwai UP पर दर्ज करवा सकेगा | इसके साथ ही दर्ज की गई शिकायत की स्थिति भी चेक कर सकेगा  | Jansunwai UP के माध्यम से उत्तर प्रदेश राज्य में बढ़ते भ्रष्टाचार को रोका जाएगा | इस पोर्टल का मुख्य उद्देश्य  राज्य के प्रत्येक नागरिक को  लाभ प्रदान करना है  और उनकी शिकायतों का समाधान करना है  |

Key Points Of UP Jansunwai Portal

योजना का नामउत्तर प्रदेश जनसुनवाई
मुख्य अधिकारीमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
विभागउत्तर प्रदेश लोक शिकायत विभाग
उद्देश्यप्रदेश का विकास
योजना की स्थितियोजना आरंभ है
लाभसमस्याओं का निस्तारण
पंजीकरण का प्रकारऑनलाइन तथा फोन के माध्यम से
अधिकारी वेबसाइटhttp://jansunwai.up.nic.in/

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर उपलब्ध सुविधाएं

  • उत्तर प्रदेश के नागरिक इस पोर्टल पर ऑनलाइन शिकायत को दर्ज करवा सकते हैं|
  • इसके साथ है जिन नागरिकों ने जो भी शिकायत दर्ज की है|
  • वह उसकी स्थिति चेक कर सकते हैं|
  • इस पोर्टल पर रिमाइंडर भेजने की सुविधा उपलब्ध है|

उत्तर प्रदेश की सरकार ने राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए Jansunwai UP का शुभारंभ किया है यह सभी नागरिकों के लिए बहुत ही उपयोगी पोर्टल है |इसके माध्यम से नागरिकों को अपनी शिकायत दर्ज करवाने में समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा जिससे भ्रष्टाचार में भी कमी होगी सबसे महत्वपूर्ण बात इस पोर्टल पर नागरिक घर बैठे ही शिकायत दर्ज करवा सकते

Jansunwai

Uttar Pradesh Jansunwai

अगर आप उत्तर प्रदेश के नागरिक हैं और आपका  सरकारी विभाग से जुड़ा कोई भी कार्य नहीं हो पा रहा है या फिर आपको कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है तो आप Jansunwai UP की jansunwai.up.nic.in, ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर शिकायत दर्ज कर सकते हैं |संबंधित विभाग के माध्यम से जल्दी ही आपकी समस्या का समाधान किया जाएगा  | जनसुनवाई पोर्टल को राज्य में बढ़ते अपराधों को रोकने के लिए शुरू किया गया है| हर नागरिक अपने द्वारा दर्ज की गई शिकायत की स्थिति भी चेक कर सकता हैं | जनसुनवाई पोर्टल पर नागरिकों के लिए और सुविधाएं उपलब्ध कराते हुए राज्य के मुख्यमंत्री जी ने हेल्पलाइन सेवा शुरू की है| यह हेल्पलाइन नंबर कुछ इस प्रकार  है 1076 |

जन सुनवाई पोर्टल प्रवासी मजदूर पंजीकरण

अब इस पोर्टल के माध्यम से प्रवासी मजदूर भी अपना रजिस्ट्रेशन  कर पाएंगे |दोस्तों यह तो आप सभी जानते हैं कोरोना वायरस की महामारी के कारण प्रवासी मजदूरों को काफी कुछ झेलना पड़ा है और अपना रोजगार छोड़कर अपने राज्य वापस जाना पड़ा है | कई श्रमिक तो अन्य राज्यों में भी फस गए हैं | उत्तर प्रदेश के जो प्रवासी मजदूर अपने राज्य वापस लौटना चाहते हैं | वह Jansunwai Portal पर जाकर अपना पंजीकरण कर सकते हैं|  फिर हर संभव  सहायता पहुंचा कर प्रवासी मजदूरों की सहायता की जाएगी  ।

Jansunwai Portal/APP Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश राज्य में  लॉकडाउन के कारण  उत्तर प्रदेश के मजदूर अन्य राज्यों में फस गए हैं|  जो भी प्रवासी मजदूर अन्य राज्य से उत्तर प्रदेश राज्य वापस आना चाहते हैं |वह Jansunwai Portal की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं | इस पोर्टल पर प्रवासी मजदूरों के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 5 मई दोपहर  से शुरू कर दी जाएगी  | जिस प्रवासी मजदूर का जनसुनवाई पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ होगा| उस मजदूर को यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी  सक्षम स्तर के माध्यम से अनुमति मिलने पर व्यक्ति को सूचना पहुंचाई जाएगी| फिर वह यात्रा कर सकता है | रजिस्ट्रेशन की सुविधा मंगलवार 5 मई  दोपहर से  जनसुनवाई  मोबाइल एप्लीकेशन पर  उपलब्ध करा दी  जाएगी |

यूपी जनसुनवाई पोर्टल

दोस्तों यह तो आप सभी को ज्ञात है उत्तर प्रदेश पूरे भारत में एक ऐसा राज्य है जिसमें दिन प्रतिदिन आपराधिक मामले बढ़ रहे हैं  या हम आसान शब्दों में कह सकते हैं आपराधिक मामलों में  उत्तर प्रदेश राज्य सबसे आगे हैं  |राज्य की सरकार  प्रत्येक नागरिक को सुरक्षा प्रदान करने के लिए और आपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए  पूर्ण प्रयास कर रही हैं |इसलिए राज्य की सरकार ने Jansunwai Portal को लांच किया है|

इस पोर्टल के माध्यम से  कोई भी नागरिक जो उत्तर प्रदेश राज्य का है वह घर बैठे ही अपनी शिकायत को ऑनलाइन दर्ज करा सकता है| फिर संबंधित विभाग के माध्यम से अपनी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकता है  और इसके साथ ही नागरिक को यह सुविधा भी दी जाएगी कि जो शिकायत ने दर्ज की है उस पर कोई एक्शन लिया गया है या नहीं वह उसकी स्थिति भी चेक कर सकेगा  ।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई स्टैट्स

Received references24990197
Pending references381241
Disposed references24608635

Jansunwai Status

दोस्तों जैसा कि आप सभी को ज्ञात है यदि सरकारी विभाग से संबंधित हमें कोई भी कार्य करवाना होता है तो उसके लिए हमें सरकारी कार्यालय जाना पड़ता है और कई परेशानियों को भी झेलना पड़ता है परंतु अब आपको यह सब परेशानियां उठाने की आवश्यकता नहीं है |अब आप घर बैठे ही अपनी शिकायत को ऑनलाइन दर्ज करवा सकते हैं और संबंधित विभाग से समय पर समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं |यदि आपकी शिकायत पर एक्शन नहीं लिया गया है तो आप इस संदर्भ में मुख्यमंत्री जी से भी संपर्क कर सकते हैं अपनी शिकायत दर्ज करवाने के बाद आप अपनी शिकायत की स्थिति भी चेक कर सकते हैं|

Jansunwai Portal Complaints Types | शिकायतों के प्रकार

देश के सभी राज्यों के नागरिक  केवल  तीन प्रकार की शिकायतों को जनसुनवाई पोर्टल पर दर्ज करवा सकते हैं इसकी जानकारी हमें नीचे दर्ज की है कृपया से ध्यानपूर्वक पढ़ें  |

  • शासकीय योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए
  • जनसाधारण की समस्या से जुड़ी शिकायत
  • और जनता की मांगों से जुड़ी शिकायत

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर स्वीकार ना की जाने वाली शिकायतों की सूची

  • Jansunwai Portal Uttar Pradesh पर सूचना का अधिकार से Related matters की Complaints को स्वीकार नहीं किया जाएगा| 
  • इस पोर्टल पर आर्थिक सहायता या फिर रोजगार देने की मांग की शिकायत को स्वीकार नहीं किया जाएगा |
  • माननीय न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण पर कोई शिकायत इस पोर्टल पर दर्ज नहीं की जाएगी|
  • किसी भी प्रकार का सुझाव इस पोर्टल पर स्वीकार नहीं किया जाएगा |
  • Jansunwai Portal पर सरकारी सेवकों के Service related matter जब तक कि उन्होंने department में उपलब्ध ऑप्शन का प्रयोग ना कर लिया होगा तब तक कोई Complaint दर्ज नहीं की जाएगी|

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर ऑनलाइन कंप्लेंट रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

दोस्तों अगर आप उत्तर प्रदेश राज्य के निवासी हैं और उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत को दर्ज करवाने के इच्छुक हैं तो आप नीचे दिए गए चरणों को ध्यानपूर्वक पढ़ें| इन चरणों का पालन करते हुए आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने में सफल होंगे|

First Step :

Jansunwai
  • यहां जाकर वेबसाइट का मुख्य पेज स्क्रीन पर आ जाएगा |
  • मुख्य पेज पर आपको Complaint Registration के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा|
  • यहां आपको शिकायत संबंधित जानकारियां प्रदान की गई होंगी | जिसमें आपको यह जानकारी दी जाएगी कि इन शिकायतों को यहां स्वीकार नहीं किया जाएगा अगर आपकी शिकायत इन शिकायतों में नहीं आते हैं |
Jansunwai
  • तब आपको मैं सहमत हूं पर क्लिक करके सहमति दर्ज करनी होगी और
  • सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा |

Second Step :

  • इसके बाद Jansunwai पोर्टल पर लॉग इन करना होगा |
  • अब आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए ईमेल आईडी और मोबाइल संख्या दर्ज करनी होगी |
Jansunwai
  • दिखाए गए कैप्चा कोड को ध्यान पूर्वक भरकर सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा|
  • फिर ईमेल आईडी और मोबाइल संख्या को वेरीफाई करने के लिए आपको ओटीपी सेंड किया जाएगा |
Jansunwai
  • आपको ओटीपी दर्ज करना होगा| अब सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा|
  • फिर कंप्यूटर स्क्रीन पर जनसुनवाई पंजीकरण के लिए एप्लीकेशन फॉर्म ओपन हो जाएगा|
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई समस्त जानकारी आपको दर्ज करनी होगी और 
  • सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा|
  • फिर आप ऑनलाइन अपनी शिकायत को दर्ज कर सकते हैं|
  • रजिस्ट्रेशन कंप्लीट होने के पश्चात आपको रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त होगा |
  • जिसे आप को सुरक्षित रखने के लिए नोट कर लेना होगा |
  • कुछ दिनों बाद आप अपनी शिकायत की स्थिति को चेक कर सकते हैं |

शिकायत की स्थिति कैसे देखें | Jansunwai Status

दोस्तों आपने कुछ दिनों पहले UP Jansunwai Portal पर अपनी शिकायत दर्ज की थी और आपको शिकायत दर्ज किए हुए कुछ दिन हो गए हैं तो आप अपने शिकायत की स्थिति को चेक कर सकते हैं शिकायत की स्थिति चेक करने के लिए आपको नीचे दिए गए चरणों को फॉलो करना होगा इंसानों को फॉलो करके आप अपने द्वारा दर्ज की गई शिकायत की स्थिति चेक कर पाएंगे|

  • शिकायतकर्ता को सबसे पहले उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा|
  • अब आवेदक को  कंप्यूटर स्क्रीन पर  वेबसाइट का होमपेज दिखाई देगा |
  • होम पेज पर  Track Complaint Status के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा|
  • इस ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आपको यहां कंप्लेंट नंबर मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी दर्ज करनी होगी|
  • फिर कैप्चा कोड दर्ज करना होगा |
  • यह सारी जानकारी दर्ज करने के पश्चात आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा |
  • फिर आप अपने द्वारा दर्ज की गई शिकायत की स्थिति (Jansunwai Status) चेक कर सकते हैं |
  • दोस्तों अगर आप की शिकायत पर कोई एक्शन नहीं लिया गया है |
  • ना ही आपकी शिकायत का निवारण किया गया है |
  • तो आप इस स्थिति में उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री को Jansunwai Portal के द्वारा सेंड रिमाइंडर से अपनी शिकायत भेज सकते हैं |
  • फिर जल्दी ही आपकी शिकायत का निवारण किया जाएगा|

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई शिकायत निवारण | Send Reminder In Jansunwai Portal UP

यदि आपके द्वारा कोई शिकायत दर्ज की गई है और उस शिकायत पर संबंधित विभाग के माध्यम से कोई एक्शन नहीं लिया गया है तो आप अनुस्मारक भेजने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें  |

  • शिकायत पर कोई एक्शन नहीं लिया गया है तो आप उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री  को  डायरेक्ट अनुस्मारक भेज सकते हैं 
  • अनुस्मारक भेजने के लिए आपको Jansunwai UP की ऑफिशियल वेबसाइट को ब्राउज कर लेना होगा
  • वेबसाइट का होम पेज स्क्रीन पर आ जाएगा  
  • यहां आपको Send Reminder का ऑप्शन दिखाई देगा | आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है|  
  • फिर एक फॉर्म ओपन हो जाएगा
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई समस्त जानकारी आपको दर्ज करनी है| 
  • फिर आप सेंड रिमाइंडर के ऑप्शन पर क्लिक कर दें | इस प्रकार आप अनुस्मारक भेज पाएंगे  |

फीडबैक देने की प्रक्रिया

  • फीडबैक दर्ज करने के लिए आपको Jansunwai UP की ऑफिशल वेबसाइट को अपने कंप्यूटर पर ओपन कर लेना होगा|
  • अब वेबसाइट का होमपेज स्क्रीन पर आ जाएगा|
  • होमपेज पर आपको Give Feedback का लिंक दिखाई देगा |
  • अब आपको इस लिंक पर क्लिक करना है  |
  • जैसे ही आप लिंक पर क्लिक करेंगे |
  • स्क्रीन पर न्यू पेज खुल जाएगा  |
  • इसमें आपको फीडबैक फॉर्म दिखाई देगा |
  • अब आपको फीडबैक फॉर्म भरना होगा |
  • इसमें महत्वपूर्ण जानकारी  जैसे कि ग्रीवेंस आईडी, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर, रजिस्ट्रेशन आईडी, सेटिस्फेक्शन रेटिंग, फीडबैक तथा कैप्चा कोड आदि दर्ज करनी होगी |
  • फिर सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा  |
  • फिर आप का फीडबैक संबंधित विभाग में चला जाएगा  |
  • इस प्रकार आप फीडबैक दर्ज कर पाएंगे |

Suggestion Procedure | सुझाव देने की प्रक्रिया

  • Jansunwai Portal के लिए अगर आपको कोई सुझाव देना है तो आपको उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की ऑफिशल वेबसाइट को ओपन कर लेना होगा |
  • अब वेबसाइट का मुख्य पेज स्क्रीन पर आ जाएगा|
  • फिर पोर्टल के लिए सुझाव देने के लिए आपको सुझाव के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा  |
  • फिर स्क्रीन पर न्यू पेज ओपन हो जाएगा |
  • जहां अपना नाम आपको दर्ज करना होगा|
  • फिर मोबाइल  नंबर, ईमेल आईडी तथा सुझाव आदि को दर्ज  करना होगा।
  • इसके बाद आप को सुरक्षित करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा  
  • फिर आप पोर्टल के लिए सुझाव दे सकते हैं |

उत्तर प्रदेश से अन्य राज्य में जाने के लिए प्रवासी पंजीकरण की प्रक्रिया

यदि कोई प्रवासी मजदूर उत्तर प्रदेश  राज्य में फस गया है  तो उसे अपने राज्य लौटने के लिए जनसुनवाई पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा

  • रजिस्ट्रेशन करने के लिए आवेदक को Jansunwai UP की ऑफिशल वेबसाइट को ओपन करना होगा  
  • अब वेबसाइट का मुख्य पेज स्क्रीन पर आ जाएगा
  • यहां  आपको “प्रवासी पंजीकरण” का ऑप्शन दिखाई देगा । 
  • फिर आपको ऐसा ऑप्शन पर क्लिक करना है 
  • अब नेक्स्ट पेज ओपन हो जाएगा
  • इस पेज पर एक फॉर्म ओपन हो जाएगा  । 
  • अब आपको यह फॉर्म ध्यानपूर्वक भरना होगा 
  • इसमें जानकारी जैसे  मोबाइल नंबर , ई मेल आईडी और कैप्चा कोड आदि दर्ज करनी होगी  
  • फिर ओटीपी भेजें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा | आपको ओटीपी प्राप्त होगा|
  • इसके बाद नेक्स्ट पेज पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जाएगा |
  • इस फॉर्म में पूछी गई समस्त जानकारी  जैसे नाम पता आदि दर्ज  करके सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा
  • इस प्रकार प्रवासी मजदूर की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया कंप्लीट हो जाएगी  |

अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश आने के लिए प्रवासी पंजीकरण की प्रक्रिया

  • आवेदक को सबसे पहले जनसुनवाई पोर्टल की ऑफिशल वेबसाइट को अपने कंप्यूटर पर ओपन कर लेना है |
  • फिर वेबसाइट का मुख्य पेज स्क्रीन पर आ जाएगा |
  • यहां आपको “प्रवासी पंजीकरण” के ऑप्शन पर क्लिक  करना होगा । 
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात नेक्स्ट पेज ओपन हो जाएगा|
  • इस पेज पर एक फॉर्म ओपन होगा|
  • इस फॉर्म में  आपको मोबाइल नंबर , ई मेल आईडी और कैप्चा कोड आदि दर्ज करना होगा |
  • फिर ओटीपी भेजने के ऑप्शन पर  क्लिक करना होगा ।
  • इसके पश्चात आपके मोबाइल पर ओटीपी आ जाएगा|
  • अब नेक्स्ट पेज पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन होगा |
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गई समस्त जानकारी जैसे आपका नाम , पता , आधार नंबर आदि को दर्ज करना होगा|
  • फिर सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा |
  • इस प्रकार अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश राज्य आने के लिए प्रवासी पंजीकरण प्रक्रिया कंप्लीट हो जाएगी  ।

हेल्पलाइन स्रोत

लोक भवन
लखनऊ
उत्तर प्रदेश , भारत
ई-मेल : jansunwai-up@gov.in
(तकनीकी समस्या हेतु)
Jansunwai Portal के नागरिकों को सुविधाएं प्रदान करने के लिए नागरिकों द्वारा शिकायत को दर्ज करने के लिए इस पोर्टल का निर्माण किया गया है  तकनीकी समस्या हेतु ही उक्त ईमेल पर संपर्क करें I आपको ध्यान देना है कि इस ईमेल आईडी पर आप को शिकायत पत्र बिल्कुल भी नहीं भेजना है यहां भेजे गए शिकायत पत्रों पर किसी भी विभाग के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जाएगी|
वेबसाइट : www.jansunwai.up.nic.in

Conclusion

दोस्तों आज हमने अपने आर्टिकल के माध्यम से उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल से संबंधित और Jansunwai Portal की मोबाइल एप्लीकेशन से संबंधित जानकारी प्रदान की | हम आशा करते हैं आपको Uttar Pradesh Jansunwai Portal की समस्त जानकारी पसंद आई होगी और लाभकारी लगी होगी यदि आप भविष्य में भी ऐसी और जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं |तो हमारी वेबसाइट से जुड़े रहिए हम निरंतर आपको महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करते रहेंगे |हमारा आर्टिकल अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद|

जनसुनवाई से सम्बंधित पूछे जाने वाले प्रश्न और उनके उत्तर
Q1. जनसुनवाई क्या है?

Ans.जनसुनवाई पोर्टल देश के सभी नागरिकों के लिए है इस पोर्टल पर नागरिक अपनी समस्या को दर्ज कर सकते हैं इसके लिए उन्हें अपना रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य है शिकायत दर्ज करने के बाद नागरिक अपने शिकायत की स्थिति को भी जांच सकते हैं |

Q2. जनसुनवाई पोर्टल पर कौन कौन थी शिकायतों को स्वीकार नहीं किया जाता है 

Ans.सूचना के अधिकार से संबंधित मामले,मा० न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण,सुझाव,आर्थिक सहायता या नौकरी दिए जाने की मांग,सरकारी सेवकों के सेवा सम्बन्धी प्रकरण (स्थानांतरण सहित) जब तक कि उन्होंने विभाग में उपलब्ध विकल्पों का उपयोग न कर लिया हो ,इन सब के अलावा किसी भी तरह की शिकायत दर्ज करवा सकते हैं |

Q3. मैंने कुछ दिनों पहले Jansunwai पोर्टल पर शिकायत दर्ज की थी  मेरी शिकायत का समाधान कब तक  होगा?

Ans. यदि आपने शिकायत दर्ज की है तो आपको उसकी स्थिति देखने के लिए समय-समय पर  अपनी शिकायत की स्थिति देखने की प्रोसेस को  रिपीट करते रहना होगा  इस प्रकार आप ही यह जानकारी प्राप्त कर पाएंगे कि आपकी शिकायत पर संबंधित विभागीय अधिकारी ने कोई एक्शन लिया है या नहीं |

Q4. जनसुनवाई पोर्टल पर की गई शिकायत का निवारण कब तक हो  जाता है ?

Ans. यदि आप जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत दर्ज करते हैं और जल्दी ही इसका समाधान प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको जानकारी दे दें कि  30 दिनों के अंदर आपकी शिकायत  का निवारण  हो जाता है परंतु यह शिकायत और संबंधित विभाग पर भी निर्भर करता है कि वह कब तक शिकायत का समाधान करेंगे  ।